शूटिंग विधा को और लोकप्रिय बनाने के लिये बड़े शहरों में बनेंगी पेपर टारगेट शूटिंग रेंज

भोपाल 
खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा है कि प्रदेश में शूटिंग खेल की एक अलग पहचान बन गई है। हमारी शूटिंग अकादमी वर्ल्ड क्लास अकादमी ऑफ एक्सीलेंस है। उन्होंने कहा कि इस विधा को और अधिक लोकप्रिय और आम जनता की इस खेल में रूचि को जाग्रत करने के उद्देश्य से बड़े शहरों में पेपर टारगेट शूटिंग रेंज अथवा शूटिंग हॉल बनाए जाएंगे। खेल मंत्री सिंधिया शुक्रवार को गोरेगांव स्थित मध्यप्रदेश शूटिंग अकादमी में हाई परफारर्मेंस प्रशिक्षक सुसुमा शिरूर के साथ राइफल शूटिंग की समीक्षा कर रही थीं। मंत्री सिंधिया ने कहा कि संचालनालय में महिला खिलाड़ियों के लिये पृथक से महिला डॉक्टर की व्यवस्था होगी। साथ ही अकादमियों में सेनेटरी पेड मशीन की भी व्यवस्था होगी। इसके अलावा प्रशिक्षक अपने प्रत्येक खिलाड़ियों के बॉडी स्केन, कम्पलीट ब्लड रिपोर्ट, इन्ज्यूरी डेटा का सम्पूर्ण डाटा अपने पास संकलित रखेंगे। खेल मंत्री ने प्रशिक्षक सुसुमा शिरूर से अकादमी के प्रत्येक खिलाड़ियों को चिकित्सा, आर्मरी, किट, भोजन, राइफल, बुलेट आदि की जानकारी ली।

प्रमुख सचिव खेल एवं युवा कल्याण गुलशन बामरा ने अकादमी में प्रवेश के लिये सिक्यूरिटी सिस्टम और सिक्यूरिटी एक्सेस व्यवस्था लागू करने की बात कही। संचालक खेल एवं युवा कल्याण रवि कुमार गुप्ता ने आगामी नवम्बर में होने वाली राष्ट्रीय शूटिंग चेम्पयिनशिप की तैयारियों की जानकारी साझा की। इस अवसर न्यूट्रिशिनिस्ट सुअनुराधा और वी.सी. के माध्यम से सिंगापुर से साइकोलॉजिस्ट सुसंजना किरण शामिल हुईं।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *