जननायक बिरसा मुंडा की जयंती पर कमलनाथ और दिग्विजयसिंह पहुंचे आदिवासियों के बीच

जबलपुर
आदिवासी जननायक अमर शहीद  बिरसा मुंडा की जयंती पर आदिवासियों को साधने भाजपा के भोपाल में आयोजित जनजातीय गौरव सम्मेलन के जवाब में कांग्रेस ने जबलपुर में आदिवासी सम्मेलन आयोजित किया। यहां एक दिन पहले से पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह महाकोशल में सक्रिय रहे वहीं पूर्व सीएम व पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ आदिवासियों के बीच बिरसा मुंडा पखवाड़े का समापन करेंगे। भोपाल में पीएम मोदी के कार्यक्रम में भाजपा ने राष्टÑ कवियत्रि स्व. सुभद्राकुमारी चौहान की कर्मभूमि की माटी का कलश भोपाल भेजा है।

जवाहर लाल कृषि विश्वविद्यालय के जवाहर स्टेडियम में कांग्रेस ने महाकोशल के विभिन्न अंचलों से आदिवासियों को जुटाया और इससे पहले बिरसा मुंडा जयंती पखवाड़ा के तहत गांव-गांव दस्तक दी। सम्मेलन की आयोजन पूर्व मंत्री कौशल्या गोटिया के मुताबिक कांग्रेस यह आयोजन कई वर्षों से करती आ रही है इसलिए जबलपुर पहुंचने वाले आदिवासी वास्तव में बिरसा मुंडा के उत्तराधिकारी हैं। सम्मेलन में शामिल होने जबलपुर सहित आसपास के आदिवासी बहुल जिले मंडला, डिंडौरी, बालाघाट,छिंदवाड़ा से आदिवासियों का आगमन हुआ।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बिरसा मुंडा के नाम की आड़ लेकर भाजपा पर आदिवासी वोटों की राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होने कहा कि यदि भाजपा सचमुच आदिवासियों का भला करना चाहती है तो उनके विकास और उत्थान के लिए ठोस काम करे। केवल घोषणाएं और दिखावटी-बनावटी आयोजन कर वोट की राजनीति नहीं करना चाहिए। भाजपा पहले ही समाज के नाम पर लोगों में दूरियां बढ़ा रही है और अब झूठा आदिवासी प्रेम जता रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *