6 बैचों में 174 लेखापालों को दिया जाएगा प्रशिक्षण

रायपुर
मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) के अंतर्गत लेखा सुदृढ़ीकरण के लिए जिला पंचायतों एवं जनपद पंचायतों में पदस्थ लेखापालों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। ठाकुर प्यारेलाल राज्य पंचायत एवं ग्रामीण विकास संस्थान, निमोरा में इन लेखापालों को मास्टर ट्रेनर के रूप में तैयार किया जाएगा। प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण के तहत छह बैचों में 174 लेखापालों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रत्येक बैच की प्रशिक्षण अवधि तीन दिनों की होगी। राज्य मनरेगा आयुक्त मोहम्मद कैसर अब्दुलहक ने प्रशिक्षण के लिए प्रतिभागियों का नामांकन समय-सीमा में करने एवं अन्य व्यवस्थाओं के लिए सभी जिलों के कलेक्टर-सह-जिला कार्यक्रम समन्वयक (मनरेगा) को परिपत्र जारी कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।

परिपत्र में कहा गया है कि जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर मनरेगा के अंतर्गत कार्यरत लेखापालों के क्षमता विकास के लिए प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण आयोजित किया जा रहा है। यह प्रशिक्षण 2 दिसम्बर से 5 जनवरी 2022 तक छह चरणों में संपादित होगी। प्रशिक्षण के लिए प्रत्येक जिला पंचायत या डी.आर.डी.ए. से तथा प्रत्येक जनपद पंचायत से एक-एक लेखापाल का नामांकन किया जाना है। सभी नामांकित प्रतिभागियों को प्रशिक्षण की निर्धारित तिथि से एक दिन पहले शाम तक प्रशिक्षण संस्थान में अपनी उपस्थिति देनी होगी। राज्य पंचायत एवं ग्रामीण विकास संस्थान के नियमों के अनुसार सभी प्रतिभागियों को कोरोना संक्रमण को रोकने लागू प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा। प्रशिक्षण के बाद ये मास्टर ट्रेनर अपने-अपने जिले एवं विकासखण्ड में अन्य लेखापालों को प्रशिक्षण देकर उनका क्षमता विकास करेंगे।

मास्टर ट्रेनर्स के पहले बैच के लिए प्रशिक्षण 2 से 4 दिसम्बर तक आयोजित किया गया है। इसमें सभी 27 जिला पंचायतों और मुंगेली डी.आर.डी.ए. से एक-एक लेखापाल को प्रशिक्षण दिया जाएगा। दूसरे बैच के रूप में 6 से 8 दिसम्बर तक रायपुर, महासमुंद, धमतरी, बलौदाबाजार-भाटापारा, गरियाबंद, दुर्ग और बेमेतरा जिले के सभी विकासखण्डों के एक-एक लेखापाल, तीसरे बैच में 13 से 15 दिसम्बर तक बालोद, राजनांदगांव, कबीरधाम, बिलासपुर, मुंगेली, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही एवं नारायणपुर जिले के कुल 30 लेखापाल, चौथे बैच में 20 से 22 दिसम्बर तक कोरबा, जांजगीर-चांपा, रायगढ़, कोरिया और सुकमा के कुल 31 लेखापाल, पांचवें बैच में  27 से 29 दिसंबर तक बस्तर, दंतेवाड़ा, बीजापुर, कांकेर एवं कोंडागांव के कुल 27 लेखापाल तथा छटवें और अंतिम बैच में 3 से 5 जनवरी 2022 तक जशपुर, सरगुजा, सूरजपुर एवं बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुल 27 लेखापालों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *