धर्म के रास्ते आतंक फैलाने की फिराक में पाक, करतारपुर से आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश

नई दिल्ली
पाकिस्तान की एजेंसी आईएसआई भारत विरोधी साजिश में नए रास्तों के जरिए आतंकियों की घुसपैठ कराने की कवायद में जुटी है। इस कड़ी में करतारपुर कॉरिडोर से घुसपैठ की आशंका भी खुफिया एजेंसियों ने जाहिर की है। खुफिया एजेंसियों को मिले इनपुट के मुताबिक पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने घुसपैठ की जिम्मेदारी फिलहाल लश्कर-ए-तैयबा को सौंपी है। आईएसआई करतारपुर कॉरिडोर से आतंकियों को भारत भेजने के लिए दस्तावेज व सुविधाएं मुहैया कराएगी। खास मकसद के लिए आतंकियों को दो सप्ताह की विशेष ट्रेनिंग आईएसआई की निगरानी में दी गई है।

यह भी पता चला है कि आतंकी संगठन पांच लोगों के साथ ऑपरेशन को अंजाम देने की तैयारी कर रहा है, जो सिख पोशाक पहनेंगे। इस संगठन को साकरगढ़ में एक आतंकी शिविर में आईएसआई की निगरानी में दो सप्ताह का कमांडो प्रशिक्षण दिया गया है और यह लश्कर-ए-तंजीम संगठन से जुड़ा है। सूत्र ने दो लोगों का नाम मोहम्मद गुलजार माघरे और मोहम्मद सहजदा बंदे के रूप में भी बताए हैं। उन्हें पंजाब के गुरदासपुर और पठानकोट जाने के निर्देश दिए गए हैं। सूत्रों के अनुसार निकट भविष्य में घुसपैठ की यह कोशिश की जा सकती है।
 
खुफिया इनपुट के मुताबिक आतंकियों को पंजाब के गुरदासपुर और पठानकोट जाने के निर्देश दिए गए है। इन दोनों जगहों पर आतंकी कार्रवाई की साजिश रची जा रही है। पठानकोट और गुरदासपुर में हथियार और दूसरे साजो सामान पहुंचाने की योजना बनाई गई है। गौरतलब है कि पंजाब में चुनाव होने हैं। खुफिया व सुरक्षा एजेंसियां विशेष सतर्कता बरत रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *