उमरिया डुंगरिया औद्योगिक क्षेत्र के लिये बना अति उच्च दाब सब-स्टेशन, 132 के.व्ही. सब स्टेशन बरगी हुआ ऊर्जीकृत

जबलपुर
जबलपुर क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा देने मध्य प्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी ने बरगी क्षेत्र के चंदेरी ग्राम में 132 के.व्ही. के नये अति उच्च दाब सब-स्टेशन को ऊर्जीकृत कर बेहद महत्वपूर्ण योजना पूरी करने में सफलता हासिल की है।

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बताया कि इस सब-स्टेशन के प्रांरभ हो जाने से जबलपुर के उमरिया डुंगरिया औद्योगिक क्षेत्र को काफी फायदा मिलेगा। साथ ही उमरिया डुंगरिया में फेस-एक, फेस-दो और फेस-तीन के प्रस्तावित उद्योगों के लिये विद्युत की सहज उपलब्धता रहेगी।

अब उमरिया डुंगरिया के साथ ही मानेगाँव क्षेत्र के क्रेशर, बरगी और चरगंवा क्षेत्र के घरेलू एवं कृषि उपभोक्ताओं को उचित वोल्टेज में गुणवत्ता पूर्ण बिजली मिलेगी।

क्षेत्र को दो की जगह छह 33 के.व्ही. के फीडर मिलेगें
पहले इस औद्योगिक क्षेत्र सहित बरगी एवं चरगंवा क्षेत्र में मध्य प्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के 2 फीडर से विद्युत आपूर्ति की जाती थी। अब बरगी सब-स्टेशन के प्रारंभ हो जाने से 6 फीडर से बिजली मिलेगी।

बरगी पावर हाउस की सप्लाई भी रहेगी उपलब्ध
कंपनी की उमरिया डुंगरिया क्षेत्र में अब दो अति उच्च दाब सब-स्टेशनों से विद्युत सप्लाई का दोहरा विकल्प उपलब्ध रहेगा। एक 220 के.व्ही. जबलपुर से तथा दूसरा सीधे बरगी पावर हाउस से भी जोडा गया है।

33 के.व्ही. लाईन की लंबाई 40 कि.मी. से कम होकर रह जायेगी सिर्फ 12 कि.मी.
बरगी (चंदेरी) में सब-स्टेशन बनने से 33 के.व्ही. लाइनों की लंबाई भी कम होगी जो पहले 40 कि.मी. थी वो अब घटकर 12 कि.मी. की हो गयी है। इससे उपभोक्ताओं को कम वोल्टेज पर सप्लाई की समस्याओं से छुटकारा तो मिलेगा ही साथ ही घने जगंल और नर्मदा क्रांसिग के कारण विद्युत सुधार कार्य में आसानी होगी।

8 उच्च दाब तथा 60 निम्न दाब उपभोक्ता है औद्योगिक क्षेत्र में
उमरिया डुंगरिया में 33 के.व्ही. के 2, 11 केव्ही के 6 तथा निम्न दाब के 60 उपभोक्ताओं के औद्योगिक कनेक्शन है। इन्हे प्रत्यक्ष रूप से फायदा तो मिलेगा ही, इसके अलावा तकरीबन 147 गाँवों के करीब 25 हजार 650 उपभोक्ता भी लाभांवित होगें।

जबलपुर जिले का 13वाँ अति उच्चदाब सब-स्टेशन है बरगी
132 के.व्ही. बरगी (चंदेरी) के ऊर्जीकृत होने से जबलुपर जिले की पारेषण क्षमता में वृद्धि हुई है। जबलपुर जिले में अब 220 के.व्ही. के 4 तथा 132 के.व्ही. के 9 सब-स्टेशन हो गये हैं।

म.प्र. का 404वाँ अति उच्च दाब केन्द्र
मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी का यह प्रदेश में 404वाँ अति उच्च दाब केन्द्र है। प्रदेश में इस समय ट्रांसमिशन कंपनी के 400 के.व्ही. के 14 सब-स्टेशन, 220 के.व्ही. के 84 सब-स्टेशन तथा 132 के.व्ही. के 306 सब-स्टेशन क्रियाशील हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *