बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी जेल में रहकर लड़ेगा चुनाव, नामांकन किया दाखिल

बुलंदशहर
बुलंदशहर जिले के स्याना थाना क्षेत्र के चिंगरावठी गांव में गोकशी को लेकर हुई हिंसा का मुख्य आरोप है और इस वक्त जेल में बंद है। योगेश राज का नाम विधानसभा चुनाव के दौरान फिर से चर्चाओं में आ गया है। दरअसल, योगेश राज ने विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया है, वो जेल में रहकर चुनाव लड़ेगा। इससे पहले योगेश राज ने जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ा था और 21 मतों से जीत हासिल की थी।
 
बता दें, पहले चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया 21 जनवरी को समाप्त हो गई है। नामांकन प्रक्रिया बंद होने से पहले योगेश राज ने जेल में रहते हुए नामांकन की प्रक्रिया पूरी कर दी है और वे बुलंदशहर जिले की स्याना विधानसभा सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। बता दें, योगेश राज जेल में रहकर ही चुनाव प्रचार भी करेंगे और वहीं, लड़ेंगे। तो वहीं, अब योगेश राज द्वारा नामांकन करने की खास चर्चा हो रही है। बता दें, इस विधानसभा क्षेत्र से भाजपा ने देवेंद्र सिंह लोधी, सपा-रालोद गठबंधन ने दिलनवाज खान, बसपा ने सुनील भरद्वाज और कांग्रेस ने पूनम पंडित को चुनाव में उतारा है। स्याना हिसा में पुलिस ने योगेश राज को बनाया था मुख्य आरोपी
03 दिसंबर 2018 को गोवंश के अवशेष मिलने के बाद स्याना कोतवाली की चिगरावठी पुलिस चौकी पर खूनी हिसा हुई थी, जिसमें तत्कालीन स्याना कोतवाल सुबोध कुमार शहीद हो गए थे और गोली लगने से चिगरावठी निवासी युवक सुमित की भी मौत हो गई थी। इस हिंसा में पुलिस ने योगेश राज समेत 80 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। इसमें 27 आरोपी नामजद थे और बाकी अज्ञात थे।

अक्टूबर 2019 में योगेश को मिली थी जमानत
योगेश के खिलाफ नामजद एफआईआर थी। हिंसा भड़काने का पुलिस ने योगेश राज को मुख्य आरोप बनाया था। पुलिस ने योगेश को 3 जनवरी, 2019 को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था और उसके ऊपर एनएसए भी लगाया गया था। हालांकि, मामले की जांच के लिए गठित एक विशेष जांच दल (एसआईटी) ने अदालत में दायर आरोप पत्र के बाद योगेश के ऊपर लगाया गया एनएसए हटा दिया गया था। योगेश को अक्टूबर 2019 में जमानत दे दी गई थी।

जिला पंचायत चुनाव जीता
इसके बाद आरोपी योगेश राज जिला पंचायत सदस्य का चुनाव भी जीत गए। वहीं, शहीद हुए सुबोध कुमार की पत्नी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाल दी, जिसके बाद योगेश राज की सुप्रीम कोर्ट ने जमानत कैंसिल करते हुए सरेंडर करने का आदेश दिया। योगेश राज ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया। योगेश राज ने पहले से ही विधानसभा 2022 के चुनाव लड़ने का मन बना रखा था और उसके समर्थकों ने सदर तहसील पहुंचकर शुक्रवार को योगेश राज की नामांकन की प्रक्रिया पूरी कर दी है। अब योगेश राज स्याना विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *