उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 300 सीटों पर प्रत्याशी उतार रही है लोकदल

    लखनऊ

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में लोकदल ने भी ताल ठोंक दी है. चौधरी सुनील सिंह की लोकदल 300 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है. लोकदल ने ऐलान किया है कि उसका सीएम पद का चेहरा मुस्लिम होगा. साथ ही लोकदल ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और समाजवादी पार्टी (सपा)- राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) पर निशाना साधा.

लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी सुनील सिंह ने कहा कि अखिलेश यादव किसान-बेरोजगार को भूल गए हैं. उन्होंने कहा कि इस चुनाव में किसान आंदोलन क्यों नहीं मुद्दा बन रहा है, बीजेपी और सपा गठबंधन को पाकिस्तान और मुस्लिम ही क्यों याद आ रहे हैं. सुनील सिंह ने कहा कि हम जाति की राजनीति नहीं करते हैं.

किसी भी पार्टी से गठबंधन न हो पाने के सवाल पर चौधरी सुनील सिंह ने कहा कि विचारधारा की वजह से गठबंधन नहीं हो पाया, लोकदल की विचारधारा किसान, रोजगार, गरीब है. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि किसानों को फसल का वाजिब मूल्य मिले, भाजपा और सपा ने वोटों की राजनीति करती है, हिंदू-मुस्लिम की खाई न बनाएं.

'हिंदू और मुस्लिम को न लड़ाए बीजेपी-सपा'

लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील सिंह ने कहा, 'हिंदू और मुस्लिम को सपा और बीजेपी के लोग न लड़ाए, लोकदल 300 प्रत्याशियों को मैदान में उतारेगा और हमारा मुख्यमंत्री का चेहरा कोई मुस्लिम होगा.' सुनील सिंह ने कहा कि लोकदल लोगों के रोजगार पर काम करेगा और किसानों को उनकी फसलों का वाजिब दाम दिलाएगा.

चौधरी सुनील सिंह ने बताया कि लोकदल के घोषणा पत्र में किसानों को उपज धान व गेहूं का 4000 रुपये एमएसपी देना रखा गया है. उन्होंने कहा कि अगर लोकदल सत्ता में आती है तो जनता पर लगने वाले सभी प्रकार के टैक्स को खत्म किया जाएगा और सिर्फ एक बैंकिंग ट्रांजैक्शन टैक्स होगा, जो तीन लाख से ऊपर पर रखा जाएगा.

लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील सिंह ने वादा किया कि प्रत्येक वार्ड, ग्राम सभा में एक लघु कुटीर उद्योग लगाया जाएगा, जिससे कम से कम 100 परिवारों को रोजगार मिले. उन्होंने कहा कि पांच वर्षों में तो किसान की आयु दोगुनी नहीं हो पाई, हमारा वादा है कि लोकदल किसानों को उसकी आय दोगुनी देने के लिए संकल्पित है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *