अगवा युवक और एक वॉट्सऐप कॉल से पुलिसकर्मियों ने किया 9 करोड़ का खेल

सोनीपत सिरसा
आम लोगों की जान और माल की सुरक्षा का जिम्मा जिस पुलिस पर होता है, उस पर लूट का इल्जाम लगा है। मामला हरियाणा के सोनीपत जिले का है, जहां एएसआई और 4 अन्य पुलिसकर्मियों ने एक शख्स को बंधक बनाकर 9 करोड़ रुपये के बिटकॉइन ट्रांसफर करा लिए। सिरसा पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर जीरो एफआईआर दर्ज की है और मामले की जांच तेज कर दी है। राजस्थान के सीकर जिले के नीम का थाना कस्बे की ज्ञान विहार कॉलोनी के रहने वाले शशिकांत ने बताया कि हरियाणा पुलिस के एएसआई और 4 अन्य पुलिसकर्मियों ने उन्हें और उनके एक दोस्त को किडनैप कर लिया था। दोनों को अगवा करके सोनीपत के खरखौंदा ले जाया गया था। यहां उनका उत्पीड़न किया गया। इसके बाद मोबाइल से 30 बिटकॉइन दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर करा दिए गए। इन बिटकॉइन्स की कुल कीमत 9 करोड़ रुपये के करीब आंकी जा रही है। फिलहाल इस मामले में सिरसा पुलिस ने जीरो एफआईआर दर्ज की है और अब इसे जयपुर पुलिस के पास ट्रांसफर कर दिया गया हो, जो आगे की जांच करेगी। हालांकि एक बार यह भी सामने आई है कि पीड़ित शशिकांत को 2013 में सिरसा की पुलिस ने धोखाधड़ी के केस में भगोड़ा घोषित किया था। यही नहीं इसी साल 23 जनवरी को पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था और अगले दिन उसे अदालत में पेश किया गया था।  रिपोर्ट के मुताबिक सिरसा पुलिस था्ने के प्रभारी विक्रम ने कहा कि शशिकांत के बयान के आधार पर जीरो एफआईआर दर्ज कर ली गई है। इसके तहत एएसआई कुमार एवं 4 अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। इन पुलिस वालों पर अपहरण, फिरौती, आपराधिक साजिश के आरोप में केस दर्ज किया गया है। अपने बयान में शशिकांत ने बताया कि वह डिजिटल क्रिप्टोकरेंसी में डील करता है। इसी के चलते उसका परिचित एएसआई और अन्य पुलिस वालों से था। शशिकांत ने कहा कि वह 22 जनवरी को जयपुर में अपने दोस्त गौरव के फ्लैट में था।

पत्नी को कॉल कर पुलिस ने ट्रांसफर कराए 25 बिटकॉइन
इसी दौरान टीम पहुंची और उसे अगवा कर लिया गया। इसके बाद उसे सोनीपत के खरखौंदा थाने में ले जाया गया। लेकिन वहां पुलिसवालों ने मुझे अवैध हिरासत में रखने से इनकार कर दिया। इसके बाद मुझे फार्महाउस में ले जाकर बंधक रखा गया। इसके बाद पुलिसवालों ने शशिकांत की पत्नी को वॉट्सऐप कॉल की और 25 बिटकॉइन ट्रांसफर करा लिए। शशिकांत का कहना है कि कुल 30 बिटकॉइन ट्रांसफर किए गए, जिनकी कीमत करीब 9 करोड़ रुपये थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *