कोविड-19 टीकाकरण में तेजी से अग्रसर होता मध्यप्रदेश

भोपाल

      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान भारत में संचालित हुआ और देश में कम समय में ही पात्र आबादी को पहली डोज का कीर्तिमान स्थापित किया गया। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में भी 98 प्रतिशत से ज्यादा पात्र आबादी को वैक्सीन का पहला टीका लगाया जा चुका है।

      मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में अभी तक 10 करोड़ 95 लाख, 29 हजार 343 वैक्सीन डोज लग चुकी हैं। इसमें 5 करोड़ 73 लाख, 91 हजार 84 को पहली डोज और 5 करोड़ 14 लाख 64 हजार 940 नागरिकों को वैक्सीन के दोनों डोज लगाये जा चुके हैं। इसके अलावा 6 लाख 73 हजार 319 प्रीकॉशन डोज भी लग चुकी हैं। प्रदेश में टीकाकरण का कार्य निरंतर जारी है।

      मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेशवासियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिये किये गये प्रयासों में वैक्सीनेशन महत्वपूर्ण रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नि:शुल्क वैक्सीन उपलब्ध करवाई, जिसका जनहित में सर्वाधिक उपयोग मध्यप्रदेश ने किया है। प्रदेश में चलाये गये विशेष टीकाकरण महाअभियानों में जन-भागीदारी सुनिश्चित करते हुए मध्यप्रदेश ने अनेक बार एक दिन में सर्वाधिक टीकाकरण का रिकार्ड बनाया है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मुझे अपने प्रदेश की जनता पर गर्व होता है, जिन्होंने टीकाकरण को मानवता की सेवा मानकर शासन-प्रशासन के साथ कांधे से कांधा मिलाकर काम किया। मध्यप्रदेश में जन-भागीदारी का जो जूनून था, वह अन्य राज्यों के लिये मॉडल बनकर उभरा है।

      मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि जिस तरह सभी ने मिलकर टीकाकरण में 98 प्रतिशत तक की उपलब्धि अर्जित करने में सहयोग दिया है, उसी तरह के जोश और आत्म-समर्पण से शेष 2 प्रतिशत लोगों को भी वैक्सीन लगवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि यह टीकाकरण का ही प्रभाव है कि कोरोना की तीसरी लहर में जो लोग संक्रमित हो रहे हैं, उन पर कोरोना का घातक असर नहीं हो रहा है। अधिकांश रोगी उचित उपचार लेकर घर में ही ठीक हो रहे हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती नहीं होना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री चौहान ने सभी नागरिकों से कोरोना प्रोटोकाल के अनुसार पूरी सावधानियाँ अपनाने की अपील की है।

      मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में 15 से 17 वर्ष के किशोर-किशोरियों को भी वैक्सीन लगाने का क्रम जारी है। आज से उन बच्चों को वैक्सीन की दूसरी डोज लगाने का अभियान शुरू किया गया है, जिन्हें पहली डोज लगे 28 दिन पूरे हो गये हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि गर्भवती महिलाओं को भी वैक्सीन लगाने में मध्यप्रदेश अग्रणी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *