इस तरह से गाजर खाएंगे तो मिलेगा पूरा फायदा

गाजर सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है, लेकिन इसका अधिकतम सेवन भी जहर के समान हो सकता है। लाइफस्टाइल कोच ल्यूक कॉटिन्हो ने गाजर का सेवन करने के सही तरीके बताए हैं। उन्होंने कहा है कि जिन लोगों को गाजर का जूस सूट नहीं होता, उन्हें यह नहीं लेना चाहिए।

सर्दियों का मौसम स्वास्थ्य बनाने के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। इन दिनों बाजार में मिलने वाली हरी पत्तेदार और मौसमी सब्जियां पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं, ऐसे में आपके शरीर को दुरूस्त बनाने के लिए ये बहुत फायदेमंद हैं। विशेषज्ञ भी मानते हैं कि स्वस्थ रहने और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए सर्दियों की सब्जियां खाना बहुत जरूरी है। ऐसा ही एक विंटर सुपरफूड है गाजर।

गाजर एक जड़ वाली सब्जी है, जो आपको एक नहीं बल्कि कई तरह से स्वस्थ रखती है। गाजर में विटामिन ए, के, सी, पोटेशियम, फाइबर , कैल्शियम और आयरन जैसे सभी जरूरी विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं। इनमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण आपको फ्री रेडिकल्स से बचाते हैं। गाजर आंखों, डायबिटीज, दिल और कैंसर जैसी बीमाररियों के लिए वरदान है। इतना ही नहीं जिन लोगों को कब्ज की समस्या रहती है, उन्हें भी गाजर बहुत फायदा पहुंचाती है। लाइफस्टाइल कोच ल्यूक कॉटिन्हो (Luke Coutinho) ने इंस्टाग्राम पर बेहतर स्वास्थ्य के लिए गाजर को क्यों और कैसे अपने आहार में शामिल किया जा सकता है, इसे लेकर एक पोस्ट शेयर की है।

गाजर कैसे खाएं

​कैंसर के मरीज खाएं ऑर्गेनिक गाजर

कॉटिन्हो ने यह भी बताया कि- कैंसर रोगियों के लिए गाजर बहुत अच्छा विकल्प है। उन्हें संक्रमण की किसी भी संभावना को कम करने के लिए हमेशा ऑर्गेनिक और खुली हुई गाजर का सेवन करना चाहिए। ऐसे लोगों के लिए गाजर का सूप पीना सबसे बढिय़ा तरीका है।

​डायबिटीज वाले न पीएं जरूरत से ज्यादा जूस

कॉटिन्हो के अनुसार, डायबिटीज के मरीजों को गाजर के जूस का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। बेहतर होगा कि मरीज अपने स्तर के हिसाब से पूरी गाजर या फिर एक मग गाजर का जूस पीएं।

​गाजर को चबाकर खाएं

ल्यूक कॉटिन्हो कहते हैं कि 'गाजर खाने का सबसे अच्छा तरीका है, इसे चबाएं। यह तरीका आपके दांतों के साथ लीवर के लिए भी अच्छा है'। कोच कहते हैं कि 'गाजर के बारे में सबसे अच्छी बात ये है कि आप इसे कच्चा चबाकर खा सकते हैं या फिर इसका जूस बनाकर भी पी सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें, अगर आप गाजर का जूस पी रहे हैं, तो इसमें से फाइबर को न हटाएं। बल्कि फाइबर के साथ जूस का सेवन ज्यादा फायदेमंद साबित होगा'।

​गाजर का जूस कैसे बनाएं

गाजर का जूस आप कुछ सूखे अजमोद के साथ बना सकते हैं। जूस में एक या दो बूंद जैतून या नारियल का तेल मिलाएं। अब इसमें चुकंदर, खीरा, अदरक, लहसुन और काली मिर्च डालें। कोशिश करें कि जूस को छाने बिना फाइबर सहित पीएं।

कोच के अनुसार, 'हर चीज की तरह गाजर के रस का सेवन भी कम मात्रा में करना चाहिए। इसे जरूरत से ज्यादा पीना जहर के बराबर हो सकता है। यदि आपको यह रस सूट नहीं करता, तो बिल्कुल न लें'।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *