किसी भी स्थिति में उर्वरक कमी की स्थिति निर्मित ना हो: कलेक्टर

रायपुर। संचालक कृषि एवं कलेक्टर रायपुर के आदेश के परिपालन में कृषि विभाग जिला रायपुर द्वारा उर्वरक की काला बाजारी को रोकने हेतु विकासखण्ड एवं जिला स्तरीय निरीक्षण दल गठित किया गया है । निरीक्षण दल द्वारा नियमित रूप से भ्रमण किया जा रहा है।

कलेक्टर  सौरभ कुमार के द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित रायपुर एवं जिला विपणन अधिकारी को जिले में सभी समितियों में उर्वरक भंडारण हेतु निर्देशित किया गया है एवं स्पष्ट निर्देश दिये गये है कि जिले में किसी भी स्थिति में उर्वरक कमी की स्थिति निर्मित न हो एवं निजी उर्वरक विक्रेताओं को उचित मूल्य पर विक्रय किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। जिला स्तरीय दल के औचक निरीक्षण के दौरान मेसर्स छत्तीसगढ़ कृषि केन्द्र ग्राम-दतरेंगा में पाये गये समस्त उर्वरक को कृषि अधिकारियो के समक्ष कृषकों को निर्धारित मुल्य पर उर्वरक का विक्रय कराया गया। आज ग्राम-दतरेंगा में लगभग 200 कृषकों को निर्धारित मूल्य पर उर्वरक विक्रय कराया गया।

कृषि विभाग रायपुर के उप संचालक द्वारा निजी उर्वरक विक्रय केन्द्रों में खाद की उपलब्धता अनुसार निर्धारित मूल्य पर विक्रय हेतु क्षेत्रीय कृषि अधिकारियों की विक्रय स्थल पर ड्यूटी सुनिश्चित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया है एवं ग्राम दतरेंगा के कृषि केन्द्रों के निरीक्षण के दौरान अनियामितता पाये जाने वाले कृषि केन्द्रों को विक्रय प्रतिबंधित किये जाने की कार्यवाही की गई। साथ ही अनुविभागीय कृषि अधिकारी रायपुर के द्वारा अनेक विक्रय परिसरों पर निरीक्षण किया गया। जिसमें कमी पाये गये विक्रय परिसरों को चेतावनी देते हुए सुधार हेतु निर्देशित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *