160 क्विंटल का अचलनाथ को लगेगा छप्पन भोग 

ग्वालियर। महाशिवरात्रि पर सोमवार रात 12 बजे से भगवान भोलेनाथ के अभिषेक प्रारंभ हो जाएंगे। मंगलवार को महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव का अभिषेक करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहेगी। शिवरात्रि की तैयारियां अचलेश्वर महादेव मंदिर, गुप्तेश्वर महादेव मंदिर, कोटेश्वर महादेव मंदिर सहित शहर के प्रमुख शिवालयों में चल रही हैं। महाशिवरात्रि पर 100 क्विंटल आलू, 50 क्विंटल साबूदाना, 10 क्विंटल फ्रूट चाट से अचलनाथ को छप्पन भोग लगेगा। भोलेनाथ का गंगाजल से अभिषेक करने के लिए गंगाजी से कांवर भरकर लाना शुरू हो गए हैं। 
ज्योतिषाचार्य पं.विजय भूषण वेदार्थी ने बताया कि फाल्गुन कृष्ण पक्ष चतुर्दशी महाशिवरात्रि भगवान शंकर का अत्यंत महत्वपूर्ण व्रत है।
इस वर्ष यह व्रत 1 मार्च मंगलवार को उत्पात योग में मनाया जाएगा। इस दिन चंद्रदेव का भ्रमण शाम 4:30 बजे से कुंभ राशि में होने से गजकेसरी योग की निष्पत्ति भी हो रही है। राहु, केतु के घेरे में सभी ग्रह आने के कारण कालसर्प योग भी बन रहा है। इस योग में भगवान शिवजी की आराधना करने से कालसर्प दोष की शांति के साथ अमावस्या दोष शांति हो जाती है। उधर, प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरी विवि शाखा तानसेन ने महाशिवरात्रि के पर्व पर विभिन्न मार्गों से रैली निकाली। इस अवसर पर लोगों को शहर को स्वच्छ बनाने का संदेश दिया गया।

महाशिवरात्रि पर ट्रैफिक प्लान…

आज रात 12 बजे से अचलेश्वर रोड पर नहीं जा सकेंगे वाहन
महाशिवरात्रि मंगलवार को है, लेकिन शिवालयों पर सोमवार रात से ही श्रद्धालु पहुंचना शुरू हो जाएंगे। इसके चलते सोमवार रात से पुलिसकर्मी सुरक्षा में तैनात रहेंगे। अचलेश्वर रोड पर रात से ही वाहनों की आवाजाही बंद कर दी जाएगी। श्रद्धालु मंदिर तक पैदल जा सकेंगे। सुरक्षा में एक हजार पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। एसएसपी अमित सांघी ने बताया कि पुलिस अफसरों के साथ बैठक कर ट्रैफिक और सुरक्षा प्लान बनाया गया है।
अचलेश्वर मंदिर: इंदरगंज चौराहे से अचलेश्वर मंदिर की ओर जाने वाले मार्ग पर रात 12 बजे से ही वाहन रोक दिए जाएंगे। त्रइंदरगंज चौराहे से कंपू, जयारोग्य अस्पताल, चेतकपुरी की ओर जाने वाले वाहन दाल बाजार, राजपायगा रोड, अस्पताल रोड होकर शीतला सहाय चौराहे पर निकलेंगे। रोशनी घर रोड पर लोडिंग एवं सवारी वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा, सिर्फ निजी वाहनों की आवाजाही रहेगी।
गुप्तेश्वर मंदिर: तिघरा और साडा बायपास से आने वाले वाहन गुप्तेश्वर पहाड़ी से आगे नहीं जा सकेंगे। गोल पहाड़िया से गुप्तेश्वर मंदिर की ओर वाहन नहीं जा सकेंगे।
कोटेश्वर मंदिर:कोटेश्वर तिराहा से कोटेश्वर मंदिर होकर काली माता मंदिर तक वाहन नहीं जा सकेंगे। यहां सड़क किनारे वाहन खड़े कर श्रद्धालु मंदिर तक पैदल जा सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *