ट्रांसफार्मर से अवैध रूप से ई-रिक्शा बैटरी चार्ज करने पर ई-रिक्शा जब्त

भोपाल

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बिजली के अवैध और अवैधानिक उपयोग में रोकथाम के लिए मैदानी स्तर पर प्रभावी ढंग से चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में मुरैना जिले के सबलगढ़ में बिजली चोरी का एक मामला पकड़ा गया है। यहाँ ट्रांसफार्मर से अवैध रूप से ई-रिक्शा चालकों द्वारा बैटरी चार्ज की जा रही थी। बिजली कंपनी को सूचना मिलते ही मौके पर ई-रिक्शा चालकों को बैटरी चार्ज करते हुए पकड़ा गया और बिजली चोरी के इन आरोपियों के विरूद्ध विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135 के तहत प्रकरण दर्ज किये गये। कंपनी द्वारा पूर्व में फरवरी माह में भी ट्रांसफार्मर से अवैध रूप से ई-रिक्शा की बैटरी चार्ज करने पर तीन ई-रिक्शा चालकों पर कार्यवाही की गयी।

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के महाप्रबंधक मुरैना पी.के.शर्मा ने बताया है कि सबलगढ़ में पिपरघान रोड पर स्थित 200 के.व्ही.ए. ट्रांसफार्मर से डायरेक्ट विद्युत चोरी कर ई-रिक्शा की बैटरी चार्ज करने पर मुकेश, राजवीर एवं जयप्रकाश नाम के तीन ई-रिक्शा चालकों के विरूद्ध बिजली चोरी का प्रकरण दर्ज कर ई-रिक्शा जब्त कर लिया गया है। मुकेश पर रूपये 4885/-, राजवीर पर रूपये 15000/- एवं जयप्रकाश पर रूपये 15000/- की बिलिंग की गई है। गौरतलब है कि पूर्व में फरवरी माह में भी मुकेश के विरूद्ध रूपये 7535/- की बिलिंग कर ई-रिक्शा जब्त किया गया था। मुरैना जिले में हानियों को कम करने के लिए सख्त एवं परिणाममूलक प्रयास किये जा रहे हैं।

गौरतलब है कि पूर्व में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने उपभोक्ताओं को आगाह किया था कि इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग करने के लिए उपभोक्ताओं को अलग से नया बिजली कनेक्शन लेना होगा। मध्यप्रदेश विद्युत नियामक आयोग द्वारा विद्युत वाहनों के चार्जिंग के लिए बिजली की पृथक से दरें निर्धारित की गई हैं। राज्य शासन की समस्त औपचारिकताएँ पूर्ण करने के बाद स्थापित किए जाने वाले विद्युत वाहन चार्जिंग स्टेशनों को पृथक से विद्युत कनेक्शन लेना अब अनिवार्य कर दिया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *