इन तरीकों से पता लगाए फोन की लास्ट लोकेशन

नई दिल्ली

श्रद्धा की मौत का आरोपी आफताब टेक्नोलॉजी का माहिर खिलाड़ी था, लेकिन उसी टेक्नोलॉजी का सहारा लेकर पुलिस आफताब तक पहुंची। पुलिस ने श्रद्धा के फोन को ट्रैक किया और पता लगा लिया कि श्रद्धा की लास्ट लोकेशन आफताब का घर था। अगर आपको भी श्रद्धा की मौत के बाद अपनों के लिए डर लग रहा है, तो आइए जानते हैं कि कैसे फोन न लगने पर अपनों की लास्ट लोकेशन कैसे ट्रैक की जाए।

पुलिस कई मामलों में आईपी एड्रेस के जरिए लोगों की लास्ट लोकेशन सर्च करके उस तक आसानी से पहुंच सकती है।
​कैसे पुलिस करती है लोकेशन ट्रैक?

पुलिस मोबाइल नंबर या फिर IMEI नंबर का इस्तेमाज करके लोकेशन ट्रैक करती है। पुलिस इस काम में टेलिकॉम कंपनी की मदद लेती है और पता लगाती है कि आपका मोबाइल लास्ट टाइम किस टावर के पास एक्टिव था और उस टावर की मोबाइल से कितनी दूरी थी।

​सरकार ऐसे करती है लोकेशन ट्रैक

सरकार Spyware सॉफ्टवेर से लोकेशन ट्रैक करती है। यह कंप्यूटर या मोबाइल में बिना इजाजत के प्रवेश कर सकता है। Pegasus ऐसा ही एक सॉफ्टवेयर है।

​Google Map से पता करें लास्ट लोकेशन
एंड्राइड फोन यूजर्स Google Map ऐप ओपन करें।

फिर प्रोफाइल पिक्चर पर क्लिक करें।

इसके बाद Location Sharing आप्शन ऑन करें।

फिर जिसकी लोकेशन ट्रैक करना चाहते हैं, उसकी प्रोफाइल पर क्लिक करें।

नोट – Google Map की मदद से लोकेशन ट्रैक करने के लिए यूजर्स की इजाजत जरूरी है। बिना इजाजत लोकेशन ट्रैक नहीं कर सकते हैं।

​WhatsApp से लोकेशन ट्रैक
सबसे पहले WhatsApp ओपन करें।

इसके बाद मैसेज बॉक्स के ‘Clip’ ऑप्शन पर क्लिक करें

इसके बाद लोकेशन ऑप्शन पर क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *