15 बीमारियों को जड़ से मिटाती है कृष्ण तुलसी

तुलसी एक औषधीय पौधा है, जिसे आयुर्वेद में सेहत के लिए काफी लाभदायक माना गया है। लेकिन क्या आप ने कभी कृष्ण तुलसी  को देखा है? क्योंकि, यह खास तरह की तुलसी का पौधा होता है, जिसके पत्तों से लेकर जड़ में चमत्कारी फायदे छिपे हैं।
यह पौधा आपके दिमाग, शरीर और आत्मा के लिए टॉनिक का काम करता है। आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. रेखा के मुताबिक आप इस से होममेड कफ सिरप भी बना सकते हैं। कृष्ण तुलसी को पहचानना काफी आसान है। भारत के कई हिस्सों में इसे श्यामा तुलसी भी कहा जाता है। क्योंकि, इसका रंग कृष्ण यानी श्याम की तरह होता है। कृष्ण तुलसी की पत्तियों, मंजरी व बीजों पर बैंगनी रंग होता है। जिसकी मदद से आप आसानी से इस पौधे की पहचान कर सकते हैं।

पत्तियां-बीज और जड़ें, सभी देते हैं फायदे
कृष्ण या श्यामा तुलसी को आयुर्वेद में ऊंचा स्थान प्राप्त है। क्योंकि, इसके पत्तों के साथ बीज और जड़ में भी औषधीय फायदे होते हैं। आप दवा के रूप में इसकी पत्तियां, बीज या पूरे पौधे का इस्तेमाल कर सकते हैं।

डायबिटीज को मिटाती है
टाइप 2 डायबिटीज और प्री-डायबिटीज के इलाज में श्याम तुलसी  मदद करती है। हेल्थलाइन के मुताबिक, इसका उपयोग करके ब्लड शुगर नीचे आ जाता है और डायबिटीज कंट्रोल हो जाती है। इस तुलसी का सेवन करके डायबिटीज के लक्षण भी दूर कर सकते हैं।

घर कैसे बनाएं आयुर्वेदिक कफ सिरप
आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. रेखा ने बताया कि अगर आपको सूखी खांसी या बलगम वाली खांसी है, तो आप कृष्ण तुलसी से कफ सिरप बना सकते हैं। खांसी का यह आयुर्वेदिक सिरप खांसी-जुकाम का रामबाण इलाज है। जो छाती की जकड़न भी दूर कर देता है।  सबसे पहले श्याम (कृष्ण) तुलसी की 2-3 पत्तियों से रस निकाल लें। फिर इसमें 2 छोटी चम्मच शहद, एक चौथाई चुटकी शुद्ध हल्दी और एक चौथाई चुटकी काली मिर्च का पाउडर मिला लें।  इस मिक्सचर को दो छोटी चम्मच दिन में 2 से 3 बार ले सकते हैं।
 वहीं, आप 1-2 हफ्तों बाद इसका सेवन रोक दें। हेल्थलाइन के मुताबिक, जानवरों पर हुई रिसर्च में देखा गया कि श्याम तुलसी की पत्तियों का सेवन करने से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल में कमी आती है। जो कि बुरा कोलेस्ट्रॉल होता है और हार्ट अटैक व स्ट्रोक का कारण बन जाता है। इसके साथ शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल का लेवल भी बढ़ जाता है।

भाग जाता है तनाव और चिंता
कृष्ण तुलसी के हर हिस्से में एडेप्टोजन होता है, जो तनाव और चिंता नेचुरल उपाय है। जिससे मानसिक संतुलन बना रहता है और मेंटल हेल्थ अच्छी रहती है। वहीं, इस तुलसी में फामार्कोलॉजिकल गुण भी होते हं, जो कई तरीके के तनाव को दूर करते हैं। श्यामा तुलसी के पत्ते ब्रॉन्काइटिस ठीक करते हैं।  मलेरिया का बुखार दूर करती है।  एक्जिमा जैसे स्किन इंफेक्शन का इलाज होता है। आंखों की बीमारी और पेट का अल्सर ठीक कर देती है। डायरिया, जी मिचलाना और उल्टी का असरदार उपाय है। कीड़े काटने पर आप इसकी पत्तियों का रस लगा सकते हैं। कृष्ण तुलसी का सेवन शरीर डिटॉक्स करता है। अगर आपके शरीर पर जख्म हो गया है, तो ठीक हो जाएगा। जोड़ों का दर्द व सूजन कम होती है। पेट के लिए अच्छी होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *