बाल दिवस पर बचपन के खेलों को किया याद

बाल दिवस पर एंडटीवी के कलाकारों ने अपने बीते दिनों को याद किया, बचपन के अपने उन खेलों पर बात की, जो लंबे वक्त से गायब हैं, और साथ ही बच्चों को बाहर निकलकर खेलने के लिये प्रोत्साहित किया। इन कलाकारों में शामिल हैं नेहा जोशी (‘दूसरी माँ’ की यशोदा), योगेश त्रिपाठी (‘हप्पू की उलटन पलटन’ के दरोगा हप्पू सिंह) और शुभांगी अत्रे (‘भाबीजी घर पर हैं’ की अंगूरी भाबी)। ‘दूसरी माँ’ में यशोदा की भूमिका निभा रहीं नेहा जोशी ने बताया मेरा बचपन मस्ती से भरा था। मैं नासिक में रहती थी और कई कजिन्स मेरे आस-पास ही रहते थे। जब भी हम साथ होते थे, कई खेल खेलते थे, शुरूआत लुका-छुपी से होती थी। ‘हप्पू की उलटन पलटन’ में दरोगा हप्पू सिंह बने योगेश त्रिपाठी ने कहा, बचपन में मेरे पास कभी ऐसे फैंसी गैजेट्स या महंगे खिलौने नहीं रहे, फिर भी मेरे भाई-बहन और मैं व्यस्त रहने के कई तरीके खोज लेते थे और बोर नहीं होते थे। मुझे अब भी याद है कि मैं गर्मियों की छुट्टियों के दौरान मेरे होमटाउन में सारे दोस्तों के साथ मिलकर गिल्ली-डंडा खेलता था। ‘भाबीजी घर पर हैं’ में अंगूरी भाबी बनीं शुभांगी अत्रे ने कहा कंचा हमारे समय के सबसे लोकप्रिय खेलों में से एक था। यह देखकर मैं उदास हो जाती हूँ कि आज के बच्चों को पता ही नहीं है कि यह आउटडोर गेम खेलने में हमें कितना मजा आता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *