iPhone 12 सीरीज के चलते कंपनी को अधिक मुनाफा

अमेरिकी टेक कंपनी Apple हर साल अपने नए iPhone लेकर आती है और आईफोन के दीवाने हर साल नए आईफोन खरीदते रहते हैं। अगर यह कहा जाए कि दुनिया में Apple iPhone के करोड़ों दीवाने मिल जाएंगे तो यह बिलकुल भी गलत नहीं होगा। वैसे तो आईफोन अपनी कीमत अधिक होने की वजह से हर किसी के बजट में यह आसानी से समाता नहीं है, लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जानकारी बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे।

हर साल लगातार आईफोन के मौजूदा यूजर्स यानी कि धरती पर एक्टिव आईफोन की यूनिट्स में बढ़ोतरी होती जा रही है। पिछले साल एप्पल ने iPhone 12 सीरीज को दुनिया में लॉन्च किया और इसके चलते बिक्री लगातार बढ़ती जा रही है। हाल ही में एप्पल ने बताया है कि दुनिया में एक्टिव आईफोन की संख्या बढ़कर 1 बिलियन यानी कि एक अरब (1,000,000,000) के पार पहुंच गई है। कंपनी ने गुरुवार को बताया कि अब तक बेचे जा चुका आईफोन में एक बिलियन आईफोन धरती पर चल रहे हैं।

कंपनी को आईफोन की बिक्री से दिसंबर की तिमाही में 65.6 बिलियन राजस्व प्राप्त हुआ था। अगर साल दर साल के हिसाब से बात करें तो कंपनी को इसमें करीब 17 फीसद का इजाफा हुआ। कंपनी ने इस रिकॉर्ड को iPhone 12 की जबरदस्त मांग के चलते बनाया है और यह सब कोरोना के दौर में मुमकिन हुआ है, जहां सब कुछ गिरता हुआ ही नजर आ रहा था। एप्पल ने आईफोन 12 सीरीज को पिछले साल लॉन्च किया था। जिसमें आईफोन 12, आईफोन 12 प्रो, आईफोन 12 प्रो मैक्स, आईफोन 12 मिनी शामिल हैं।

कंपनी ने एक्टिव डिवाइस की संख्या में तेजी हासिल की है। कंपनी दिसंबर तिमाही के दौरान ग्लोबल लेवल पर 1.65 बिलियन डिवाइस के आंकड़े को पार कर चुकी है। साल दर साल में iPhone की बिक्री में 17 फीसद इजाफा हुआ है और यह आईफोन 12 की मजबूत मांग के कारण हुआ है। फिलहाल iPhone का एक्टिव इंस्टॉल बेस 1 अरब से ज्यादा है। iPhone 12 के प्रति ग्राहकों की प्रतिक्रिया काफी बेहतरीन रही है। नए आईफोन 12 को ग्राहक उसके वर्ल्ड क्लास कैमरों और दमदार 5 जी कनेक्टिविटी के चलते काफी पसंद कर रहे हैं। जहां कोरोना के दौर में अधिकतर जगह गिरावट का सामना किया गया, लेकिन इसके बावजूद भी रिटेल बिक्री शानदार रही है।'

अमेरिका में हाल ही में हुए सर्वे में यह पता चला कि आईफोन ग्राहक iPhone 12 के चलते 98 फीसद संतुष्ट हैं। वहीं आईपैड और मैक की बात की जाए तो iPad में 41 फीसद और Mac में 21 फीसद वृद्धि हुई है। अगर बात करें इस तिमाही की तो कंपनी के नए iPad Air और Mac की फर्स्ट जेनरेशन के लिए एप्पल की ग्राउंडब्रेक M1 चिप का इस्तेमाल किया गया है। इस दौरान इन सभी प्रोडक्ट्स की डिमांड काफी जबरदस्त रही है। अगर प्रोडक्ट रेवेन्यू की बात करें तो इस साल 21 फीसद की ग्रोथ के साथ 95.7 बिलियन डॉलर का राजस्व प्राप्त हुआ है जो कि अब तक का सबसे अधिक और एक रिकॉर्ड है।

Apple ने दिसंबर तिमाही में सबसे ज्यादा पहली बार 111.4 बिलियन का राजस्व हासिल किया है। अगर कुल इनकम की बात करें तो यह 28.8 बिलियन डॉलर हुई थी जो कि पिछले साल की तुला में 6.5 बिलियन डॉलर या 29 फीसद अधिक थी। कंपनी की सर्विस ने 15.8 बिलियन डॉलर का ऑल-टाइम रिकॉर्ड बनाया है जो कि साल दर साल के हिसाब से 24 फीसद ज्यादा है। कंपनी ने सभी क्षेत्रों में अधिकतर सर्विस कैटेगरी और दिसंबर तिमाही के रिकॉर्ड में बिलकुल नए रिकॉर्ड बनाए हैं।

पेड सब्सक्रिप्शन की बात करें तो इसमें भी बेहतरीन बढ़ोतरी हो रही है। कंपनी ने 2020 के आखिर तक 600 मिलियन पेड सब्सक्रिप्शन के अपने टार्गेट को पार किया। दिसंबर तिमाही के दौरान Apple ने 35 मिलियन से अधिक पेड सब्सक्रिप्शन को शामिल किया। अब कंपनी के प्लेटफॉर्म पर 620 मिलियन से अधिक पेड सब्सक्राइबर हैं। अगर एक साल पहले की बात करें तो यह सिर्फ 140 मिलियन ही थे

पहनने की सामग्री, घर का सामान और अन्य एक्सेसरीज में साल दर साल के हिसाब से 30 फीसद इजाफा हुआ है जो कि बढ़करक 13 बिलियन डॉलर पहुंच गए हैं। हर क्षेत्र में इस बार बिलकुल नए राजस्व के रिकॉर्ड बने हैं। कंपनी को Mac से दिसंबर तिमाही में 8.7 बिलियन का राजस्व प्राप्त हुआ जो कि बीते साल प्राप्त हुए राजस्व से करीब 21 फीसद ज्यादा है। कंपनी के इस बेहतरीन प्रदर्शन की वजह बिलकुल नई M1 चिप पर बेस्ड MacBook Air, MacBook Pro और Mac Mini की मजबूत डिमांड है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *