विश्व में सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तहत अब तक टीके की 14.19 करोड़ से ज्यादा खुराक दी गयीं

Delhi.विश्व में सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तहत भारत में कोविड-19 टीके की दी जा चुकी खुराक की कुल संख्या  आज 14.19 करोड़ से अधिक हो गई है। साथ ही टीकाकरण अभियान ने कल 100 दिन पूरे कर लिए।आज सुबह सात बजे तक मिली अस्थायी रिपोर्ट के अनुसार 20,44,954 सत्रों के जरिए कोविड वैक्सीन की कुल 14,19,11,223 खुराक दी जा चुकी हैं। टीकाकरण लाभार्थियों की कुल संख्या में वे 92,98,092 एचसीडब्ल्यू शामिल हैं, जिन्होंने वैक्सीन की पहली खुराक ली है और 60,08,236 ऐसे एचसीडब्ल्यू भी शामिल हैं, जिन्होंने वैक्सीन की दूसरी खुराक ले ली है। इसके अलावा पहली खुराक लेने वाले 1,19,87,192 एफएलडब्ल्यू, दूसरी खुराक लेने वाले 63,10,273 एफएलडब्ल्यू, इसके साथ-साथ 60 साल से अधिक आयु के पहली खुराक लेने वाले 4,98,72,209 और दूसरी खुराक लेने वाले 79,23,295 लाभार्थियों के साथ-साथ 4,81,08,293 पहली खुराक लेने वाले और 24,03,633 दूसरी खुराक लेने वाले 45 से 60 वर्ष की आयु के लाभार्थी भी शामिल हैं।

 

एचसीडब्ल्यू एफएलडब्ल्यू 45-60 वर्ष का आयु वर्ग 60 साल से अधिक  

कुल

पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक
92,98,092 60,08,236 1,19,87,192 63,10,273 4,81,08,293 24,03,633 4,98,72,209 79,23,295 14,19,11,223

 

देश में अभी तक दी गई कुल खुराक में आठ राज्यों का 58.78 प्रतिशत योगदान है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001YAV7.jpg

 

पिछले 24 घंटों के दौरान टीके की करीब 10 लाख खुराक दी गई।

टीकाकरण अभियान के 100वें दिन (25 अप्रैल, 2021) कोविड-19 के 9,95,288 टीके की खुराक दी गई। इसमें से 6,85,944 लाभार्थियों को 11,984 सत्रों के जरिए पहली खुराक तथा 3,09,344 लाभार्थियों को टीके की दूसरी खुराक दी गई।

दिनांक 25 अप्रैल, 2021 (100 वां दिन)

एचसीडब्ल्यू एफएलडब्ल्यू 45-60 वर्ष का आयु वर्ग 60 साल से अधिक कुल उपलब्धि  
पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक  
7,602 12,602 36,946 19,782 4,24,503 73,395 2,16,893 2,03,565 6,85,944 3,09,344  

 

भारत में आज तक कुल मिलाकर 1,43,04,382 कोविड मरीज ठीक हुए है। राष्ट्रीय रिकवरी दर 82.62प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों के दौरान 2,19,272 कोविड मरीज ठीक हुए है।

बीमारी से उबरने वाले मरीजों की संख्या में 10 राज्यों का योगदान 78.98 प्रतिशत है।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002LQWQ.jpg

पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के 3,52,991 नये मामले दर्ज किए गए।

महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, गुजरात और राजस्थान सहित 10 राज्यों में नये संक्रमण के 74.5% मामले दर्ज किए जा रहे हैं।

महाराष्ट्र में सबसे अधिक 66,191 दैनिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। इसके बाद 35,311 मामलों के साथ उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर है, जबकि कर्नाटक में 34,804 नए मामले सामने आए हैं।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003JYUH.jpg

 

12 राज्यों में, जैसा कि नीचे दिखाया गया है, दैनिक नए मामलों में बढ़ोतरी का रूझान जारी है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004A2U7.jpg

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image005WOC2.jpg

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image00642HP.jpg

 

भारत में कुल सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 28,13,658 हो गई है। यह संख्या देश के कुल संक्रमित मामलों का 16.25 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों के दौरान कुल सक्रिय मामलों की संख्या में 1,30,907 मामलों की बढ़ोतरी हुई है।

भारत के कुल सक्रिय मामलों में आठ राज्यों- महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, राजस्थान, तमिलनाडु, गुजरात और केरल का कुल मिलाकर 69.67 प्रतिशत योगदान है।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image007U9OM.jpg

 

कोविड से जुड़ी राष्ट्रीय मृत्यु दर गिर रही है और इस समय 1.13 प्रतिशत है।

पिछले 24 घंटों के दौरान 2,812 कोविड मरीजों की मौत हुई है। 10 राज्यों का मौत के नए मामलों में 79.66 प्रतिशत योगदान है। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 832 लोगों की जान गई, इसके बाद दिल्ली में सबसे ज्यादा 350 लोगों की मौत हुई।

 

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0083WGG.jpg

पिछले 24 घंटों के दौरान पांच राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों में कोविड से किसी रोगी की मौत नहीं हुई है। इन राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों के नाम हैं- दमन दीव और दादर नगर हवेली, त्रिपुरा, लक्षदीप, मिजोरम और अंडमान-निकोबार द्वीप समूह।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *