जम्मू हवाई अड्डे ने 16 लाख से अधिक टीके की खुराक पहुंचाई

Delhi-देश इस वक्त कोरोना महामारी के खिलाफ एक भयंकर युद्ध लड़ रहा है और इस आपदा के वक्त देश के विभिन्न हिस्सों तक कोविड वैक्सीन और अन्य आवश्यक चिकित्सा सामाग्री का समय पर पहुंचना बेहद जरूरी है। इसी आवश्यक चिकित्सा सामाग्री को आसान और बिना किसी रुकावट के पहुंचाने में जम्मू हवाई अड्डा बेहद अहम भूमिका निभा रहा है। जम्मू हवाई अड्डे के फ्रंटलाइन वारियर्स ने कोविशील्ड और कोवैक्सिन की 16 लाख से अधिक खुराकों को केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर के राज्य टीकाकरण विभाग के प्रतिनिधियों को सौंपा है। हवाईअड्डा प्रभावी रूप से यात्रियों के लिए एक सुरक्षित यात्रा अनुभव सुनिश्चित कर रहा है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मानक संचालन उपायों (एसओपी) के अनुसार हवाई अड्डे को विभिन्न तरीकों से यात्रियों के एक स्वच्छ हवाई अड्डा और कर्मचारियों के लिए सुरक्षित कार्यस्थल बनाया गया है। इसके अलावा आने वाले सभी यात्रियों की कोविड-19 जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग को सभी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं। जम्मू हवाई अड्डे ने जिला प्रशासन के सहयोग से जम्मू कैंट सतवती के जीबी पंत अस्पताल में टीकाकरण कैंप का आयोजन किया है। जम्मू-कश्मीर सरकार के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत प्राथमिकता समूह के रूप में भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के कर्मचारियों और हवाई अड्डे के हितधारकों के लिए इस कैंप का आयोजन हुआ। इसके तहत पहले चरण में 489 से अधिक लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। इसके अलावा टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण में बाकी कर्मचारियों और उनके आश्रित परिवार के सदस्यों के लिए भी टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। हवाई अड्डे के सुरक्षा स्टाफ (सीआईएसएफ) के लगभग 300 कर्मचारियों को पहले ही टीका लगाया जा चुका है। यात्रियों के बीच कोविड-19 के उचित व्यवहार के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए जम्मू हवाई अड्डे पर नियमित रूप से एफआईडीएस, बैनर, पोस्टर के माध्यम से निर्देशों का प्रदर्शन और पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से सूचना की घोषणा की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *