लापरवाही पर सरकार सख्त ,4 निलंबित, 22 कर्मचारियों को नोटिस

भोपाल
 मध्य प्रदेश के अलग अलग जिलों में अधिकारियों और कर्मचारियों पर एक्शन का दौर जारी है, आए दिन लापरवाही पर कार्रवाई कलेक्टरों द्वारा कार्रवाई की जा रही है। नेताजी सुभाषचंद्र बोस केंद्रीय जेल जबलपुर में पदस्थ महिला जेल प्रहरी रूपाली दुबे को खुली जेल का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल करने पर मध्य प्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के अंतर्गत कदाचन की श्रेणी में मानते हुए निलंबित कर दिया गया है। निलंबन के दौरान उनकी पोस्टिंग सिहोरा जेल में रहेगी।इधर, वीडियो वायरल होने के बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है।

मतदान दलों के प्रशिक्षण में अनुपस्थित रहे 22 सरकारी कर्मचारियों पर बालाघाट कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा ने कार्रवाई की है। कलेक्टर ने सभी कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा है और पूछा है कि क्यों न इस लापरवाही के लिए उनका एक दिन का वेतन काटा जाए। इन शासकीय सेवकों को 7 दिनों के भीतर अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने कहा गया है। समय सीमा में संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

बालाघाट के शिक्षक मोहनलाल मड़ावी, हायर सेकेंडरी स्कूल चंदना के प्राथमिक शिक्षक जियस उइके, भारतीय जीवन बीमा निगम बालाघाट के एसके श्रीवास्तव, लिखित पटले, अनमोल रामटेके, शशिकांत मेश्राम, आशीष श्रीवास, सीएल मेश्राम, आशीष, मनोज डेकाटे, एसके जैन, गढ़ी के सहायक शिक्षक रमाकांत शुक्ला, भरवेली की माध्यमिक शिक्षक कीर्ति सोनी, माया भिमटे, हायर सेकेंडरी स्कूल पाथरी के अध्यापक बलिराम कौल, हायर सेकेंडरी भानेगांव के माध्यमिक शिक्षक महेश सहारे, ग्रामीण कृषि विकास अधिकारी अरुण कुमार जैन, मानेगांव की प्राथमिक शिक्षक प्रेमवती मरावी, मोहझरी संकुल के सहायक ग्रेड-2 मिलिंद कुमार रूषीकर, हायर सेकेंडरी लांजी के सहायक ग्रेड-3 तपेश कुमार ब्रह्मे, हायर सेकेंडरी खैरलांजी के राजेंद्र कुमार मेश्राम को नोटिस जारी किया गया है।

उज्जैन में सटोरियों पर कार्रवाई करने के बाद एसपी सत्येंद्र शुक्ल ने जीवाजीगंज थाना क्षेत्र के टीआई गगन बादल को निलंबित कर दिया । हैरानी की बात तो ये है कि जिस क्षेत्र में कार्रवाई को पुलिस की विशेष बल ने अंजाम दिया था, उसकी भनक तक जीवाजीगंज थाना क्षेत्र के टीआई गगन बादल तक को नहीं लगी।वही एसपी को भी कई दिनों से सट्टे संचालित होने की खबरें मिल रही थी, इसके बादजूद टीआई द्वारा कोई एक्शन नहीं लिया गया।ग्वालियर नगर निगम कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी कौशलेंद्र विक्रम सिंह के निर्देश और नगर निगम आयुक्त किशोर कन्याल के अनुमोदन पर नगर निगम के उपायुक्त सामान्य प्रशासन विभाग ने संग्रहक राजकुमार कोष्ठा और विष्णु शिवहरे को मतदाता सूची में लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.