फ्लोर टेस्ट से पहले BJP विधायक दल की बैठक टली, अब 6 बजे होगी

 बेंगलुरु 
बीएस येदियुरप्पा कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले चुके हैं. अब सोमवार को फ्लोर टेस्ट होगा, जहां विधानसभा में येदियुरप्पा को बहुमत साबित करना होगा. लेकिन रविवार को कर्नाटक में बीजेपी विधायक दल की बैठक स्थगित हो गई है. पहले यह बैठक दोपहर 3.30 बजे होनी थी. अब यह शाम 6 बजे होगी. इस बैठक में सोमवार को विधानसभा में बहुमत और आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी.

दूसरी ओर रविवार को कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष के आर रमेश ने कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) के 14 बागी विधायकों को अयोग्य करार दिया. ये विधायक 23 जुलाई को पार्टी के व्हिप जारी किए जाने के बाद भी सदन में उपस्थित नहीं हुए थे. 23 जुलाई को एचडी कुमारस्वामी सदन में विश्वास मत लेकर आए, तब विधायक सदन में मौजूद नहीं थे. इस वजह से कुमारस्वामी सरकार 6 वोटों से गिर गई थी.

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने के कारणों में से एक संविधान की 10वीं अनुसूची है. उन्होंने कहा, कांग्रेस और जेडीएस ने व्हिप जारी किया था. लेकिन फिर भी जेडीएस के 3 और कांग्रेस के 11 विधायक 23 जुलाई को सदन में विश्वास मत के दौरान मौजूद नहीं थे. इसके बाद 25 जुलाई को कांग्रेस के तीन बागी विधायकों को अयोग्य ठहरा दिया गया था.

कुमारस्वामी की सरकार गिरने के बाद शुक्रवार (26 जुलाई) को येदियुरप्पा को राज्यपाल वजुभाई वाला ने मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई. एक आम समारोह में राजभवन के विशाल लॉन में येदियुरप्पा ने शाम 6.30 बजे पद और गोपनीयता की शपथ ली. इस दौरान 75 साल के येदियुरप्पा सफेद सफारी सूट और कंधों पर हरे रंग का शॉल डाले नजर आए थे. शपथ ग्रहण समारोह में पार्टी के सैकड़ों नेता, विधायक, कैडर और येदियुरप्पा के परिवार के सदस्य मौजूद थे.

क्या है विधानसभा का गणित

कर्नाटक विधानसभा में अब संख्या 207 रह गई है. 17 विधायकों को अयोग्य घोषित कर दिया गया है. इस तरह बहुमत का आंकड़ा अब 104 का रह गया है. कुमारस्वामी सरकार के फ्लोर टेस्ट में गठबंधन सरकार के पक्ष में 99 और बीजेपी के पक्ष में 105 वोट पड़े थे. इस लिहाज से बीजेपी को 105 विधायकों का समर्थन हासिल है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.