बंद कमरे में होगी दिग्विजय-ज्योतिरादित्य की गुफ्तगूं, CM कमलनाथ शबरी जयंती में होंगे शामिल

भोपाल
पिछले कुछ दिनों की तकरार और तल्खी के बाद आज एमपी की राजनीति के दो दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह (digvijay singh) और ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) मिलने वाले हैं. दोनों के बीच ये मुलाकात गुना के सर्किट हाउस में होगी. वचन पत्र पर अमल कराने के लिए अपनी ही सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने का ऐलान कर चुके सिंधिया से दिग्विजय सिंह की मुलाकात के गहरे मायने हैं. इसे पार्टी के डैमेज कंट्रोल के रूप में भी देखा जा रहा है और दोनों नेताओं की राज्यसभा (rajya sabha) सीट की दावेदारी पर चर्चा के तौर पर भी. मध्य प्रदेश के कोटे की 3 राज्यभा सीटें अप्रैल में खाली हो रही हैं. इनमें से 2 कांग्रेस के खाते में आना तय है.

कांग्रेस पार्टी में 'ऑल इज वेल' बता रहे पार्टी के नेता अब सुलग रहे विरोधों को सुरों को थामने की कवायद में जुट गये हैं. कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के अपनी ही सरकार के वचन पत्र पर अमल को लेकर सवाल उठाने के बाद से शुरू हुई डैमेज कंट्रोल की कवायद अभी भी जारी है. और अब पार्टी के दो बड़े दिग्गज नेताओं की होने वाली अहम मुलाकात के भी सियासी मायने निकाले जा रहे है. दरअसल सिंधिया सोमवार को प्रदेश के दौरे पर है. जहां वो सुबह भोपाल होते हुए गुना के लिए रवाना हो रहे हैं. कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह भी सोमवार को गुना पहुंचेंगे और दोनों नेताओं के बीच करीब आधा घंटा बंद कमरा में बैठक होगी. इस बैठक में राज्यसभा की अप्रैल में खाली हो रही सीटों के साथ ही राजनैतिक नियुक्तियों को लेकर चर्चा होने की संभावना है.

ये पहला मौका होगा जब दिग्विजय सिंह की सिंधिया के साथ बंद कमरे में लंबी चर्चा होगी. दोनों नेताओं के जारी कार्यक्रम के मुताबिक, सिंधिया सोमवार की सुबह भोपाल आएंगे और यहां से वो गुना के लिए रवाना होंगे. तो वहीं दिग्विजय सिंह के जारी कार्यक्रम के मुताबिक, दोपहर एक बजे गुना पहुचेंगे और दोपहर दो बजे सिंधिया के साथ गुना सर्किट हाउस में आधा घंटे चर्चा करेंगे.

प्रियंका के यूपी को छोड़ एमपी से राज्यसभा जाने की संभावना कमबहरहाल अप्रैल में खाली हो रही राज्यसभा की तीन सीटों में से दो कांग्रेस के खाते में और एक बीजेपी के खाते में जाना तय है और इन दो सीटों के लिए दिग्विजय सिंह और सिंधिया दोनों दावेदार हैं. हालांकि प्रियंका गांधी का नाम भी एक सीट के लिए उछाला गया है. लेकिन प्रियंका के यूपी को छोड़ एमपी से राज्यसभा जाने की संभावना कम है. लेकिन कांग्रेस पार्टी के अंदर विधायकों को एकजुट रखने के साथ ही बड़े नेताओं के बीच के मतभेद खत्म करने की कवायद ने जोर पकड़ा है और दिग्गी-सिंधिया की इस मुलाकात को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है.

मुख्यमंत्री कमल नाथ आज डिंडौरी के दौरे पर रहेंगे. वो यहां माता शबरी जयंती समारोह और आदिवासी सम्मेलन में शिरकत करेंगे. वो जबलपुर होते हुए डिंडौरी के लिए रवाना होंगे. माता शबरी जयंती समारोह एवं आदिवासी सम्मेलन में भाग लेने के बाद मुख्यमंत्री दोपहर में भोपाल लौट आएंगे.

इंदौर में हनुमान मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम ज़ोर-शोर से जारी है.आज विशाल कलश यात्रा निकाली जा रही है. जिसमें करीब एक लाख महिलाएं शामिल होंगी. बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित तमाम लोग भी इसमें शामिल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.